Patta Chitta Online : Tamil Nadu Land Records 2020

तमिलनाडु सरकार की पट्टा और चिट्टा (Patta Chitta) ऑनलाइन पोर्टल क्या है? जमीन के दस्तावेज ऑनलाइन कैसे करें?

अक्सर जब हम जमीन जायदाद खरीदने के लिए किसी के पास जाते हैं, तो इस बात की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता है कि जिसकी जमीन खरीद रहे हैं, वह उस जमीन का सही मालिक है कि नहीं।  लेकिन तमिलनाडु सरकार द्वारा जमीन के दस्तावेज को ऑनलाइन दर्ज करके यह सुविधा आसान कर दी है कि कोई भी ऑनलाइन पट्टा और चिट्टा (Patta Chitta)  वेबसाइट से जमीन के सही मालिक  का विवरण  आसानी से देखा जा सकता है।  इस लेख में इसी बात को  पूरी तरीके से समझाया गया है।

तमिलनाडु सरकार की पट्टा और चिट्टा (Patta Chitta) दस्तावेज क्या है?

पट्टा और चिट्टा (Patta Chitta) में तमिलनाडु सरकार का भू-राजस्व डेटा  का रिकॉर्ड रखा जाता है।  तमिलनाडु  राज से संबंधित संपत्ति की लेनदेन,  कानूनी राय आदि का ब्यौरा होता है। तमिलनाडु से संबंधित सभी जैसे संपत्तियों के हस्तांतरण, सरकारी भूमि, संपत्ति प्रतिज्ञा, कानूनी राय, आदि   के दस्तावेज होता है।  आइए इस लेख में इससे संबंधित सभी बातों के बारे में  विस्तार से जाने-

तमिलनाडु में पट्टा दस्तावेज (Patta) क्या है? (Tamilnadu online patta)

संपत्ति के अधिकार का मालिकाना हक तमिलनाडु सरकार द्वारा दिया जाने वाला कानूनन दस्तावेज को पट्टा कहते हैं।  इसमें जिसके नाम से संपत्ति है, उसका नाम दर्ज होता है। इस पट्टे में निम्नलिखित विवरण दिया होता है- 

      • जिला / तालुक / गाँव का नाम
      • पट्टा नंबर
      •  मालिक का नाम
      • सर्वे नंबर
      • उपखंड
      • वेटलैंड / ड्राईलैंड (तमिल में इसे नानजई निलम और पुंजाई निलम कहा जाता है)
      • भूमि क्षेत्रफल
      • कर विवरण (tax)
      •  जब कोई जमीन  या संपत्ति खरीदता है तो इसी पट्टे के रिकॉर्ड से उसे पता चलता है कि जमीन का यह मालिक सरकारी रिकार्ड के अनुसार सही है कि नहीं।

तमिलनाडु में पट्टा (Patta) की जरूरत क्यों होती है?

भूमि के भूखंड यानी कि खाली जमीन के लिए पट्टा दस्तावेज होना जरूरी है। यह पहला दस्तावेज है,  जिससे पता चलता है कि इस जमीन का मालिक कौन है

पट्टा से यह पता चलता है कि किसी जमीन या इमारत  किसके नाम पर है। यानी कि किसके पास कानूनन मालिकाना हक है।

पट्टा दस्तावेज जमीन के लिए होता है लेकिन पट्टा जमीन के साथ  इमारतों का विवरण भी हो सकता है।

तमिलनाडु सरकार द्वारा जमीन के मालिकाना हक से संबंधित चिट्टा (Chitta) क्या है?

चिट्टा (Chitta) में भूमि के मालिकाना हक के साथ उसका क्षेत्र और आकार कितना है, इन सबका विवरण  दर्ज किया जाता है। स्वामित्व, क्षेत्र, आकार  से  संबंधित  होता है।

चिट्टा (Chitta) विशेष रूप से नंजई (आर्द्रभूमि) और पुंजाई (शुष्क भूमि) में भूमि के बारे में बताता है।

 चिट्टा दस्तावेज ग्राम प्रशासनिक अधिकारी (VAO) और तालुक कार्यालय भूमि राजस्व दस्तावेज को रखते हैं।

 तमिलनाडु सरकार ने सन 2015 के बाद से चिट्टा (Chitta) दस्तावेज जारी करना बंद कर दिया है।  इसका विवरण पट्टा के साथ  दर्ज किया जाता है।  जिसे आप ऑनलाइन देख सकते हैं।

तमिलनाडु राज्य के जमीन व संपत्ति के बारे दर्ज रिकॉर्ड पट्टा और चिट्टा (Patta Chitta) वेबसाइट से जमीन के मालिकाना हक के बारे में जाने-

 तमिलनाडु राज्य  के जमीन व संपत्ति  के बारे दर्ज रिकॉर्ड पट्टा और चिट्टा (Patta Chitta) वेबसाइट से  जमीन के मालिकाना  हक के बारे में जाने- 

 तमिलनाडु सरकार ने जमीन व संपत्ति  के  समस्त विवरण जैसे मालिकाना हक और जमीन  की माप इत्यादि को यानी पट्टा और चिट्टा (Patta Chitta) को  एक साथ दर्ज कराने की प्रक्रिया ऑनलाइन माध्यम से कर दिया है। किसी भी जमीन व संपत्ति की पट्टा और चिट्टा (Patta Chitta) दस्तावेज पाने के लिए ऑनलाइन से  या तमिलनाडु के Taluka office से जाकर  लिया जा सकता है  www.eservices.tn.gov.in

आइए जाने पट्टा और चिट्टा (Patta Chitta) पाने के लिए ऑनलाइन (patta chitta online) प्रक्रिया के बारे में-

Step 1: पट्टा और चिट्टा (Patta Chitta) वेबसाइट पर जाएँ,  या इस लिंक पर https://eservices.tn.gov.in/eservicesnew/land/chitta.html?lan=en क्लिक करें। 

तमिलनाडु पट्टा और चिट्टा (tamilnadu Patta Chitta) की वेबसाइट पर लॉग इन करें।  वेबपेज दो भाषाओं में उपलब्ध है – अंग्रेजी और तमिल।

Step 2: Patta & FMB/Chitta/TSLR Extract चुनें।

पट्टा और एफएमबी / चित्त / टीएसएलआर एक्सट्रैक्ट चुनें और उस जिले का भी चयन करें जहां संपत्ति या जमीन( land) स्थित है।

Step 3: संपत्ति का विवरण  ऐसे जाने

 जिस पट्टा और चिट्टा (Patta Chitta) प्रॉपर्टी के बारे में जानना चाहते हैं उसका विवरण दर्ज करें, जैसे तालुक, गाँव, वार्ड, ब्लॉक, सर्वेक्षण संख्या, और सब डिवीजन नंबर इत्यादि। 

Step 4: जारी किए गए पट्टा चिट्टा प्रमाण पत्र की ऑनलाइन जांच 

इसके बाद संपत्ति का प्रमाण पत्र ऑनलाइन (online Patta Chitta) प्रमाण पत्र दिखाई देगा। जिसकी आप जांच कर सकते हैं। इसमें टाउन सर्वे लैंड रजिस्टर संपत्ति निर्माण, नगरपालिका द्वार संख्या, क्षेत्र, और भूमि प्रकार आदि सहित एक प्रमाण पत्र  दिखाई देता है।

निष्कर्ष

तमिलनाडु सरकार ने जमीन ज्यादा से संबंधित रजिस्ट्री में धोखाधड़ी  होने की संभावना लगभग खत्म कर दी है।  अगर आपको कोई जमीन खरीद ली है तो उसके बारे में सभी जानकारी पट्टा और चिट्टा (Patta Chitta) तमिलनाडु के अधिकारी वेबसाइट में दर्ज करके है,  इस ऑनलाइन माध्यम से हम जान सकते हैं कि जमीन का सही मालिकाना हक वाली जमीन किसके नाम पर है इसका पता ऑनलाइन लगा सकते हैं।

Share this post

Share on facebook
Share on google
Share on twitter
Share on linkedin
Share on pinterest
Share on print
Share on email